वेब दुनिया की ब्लॉग चर्चा में इस बार 'गुलज़ारनामा'  

Posted by: कुश

दोस्तो,
मुझे ये बताते जुए अत्यंत हर्ष हो रहा है की ब्लॉग गुलज़ार नामा के बारे में वेब दुनिया पर एक आलेख लिखा गया है.. गुलज़ार नामा ब्लॉग के लिए ये सम्मान की बात है की विश्व की पहली हिन्दी वेब पोर्टेल 'वेब दुनिया' में इस ब्लॉग को स्थान मिला है.. रवीन्द्र व्यास जी के द्वारा हमे इस बात का सौभाग्य प्राप्त हुआ है.. इस उपलब्धि में श्रेय जाता है 'गुलज़ार नामा' पर लिखने वाले हर योगदानकर्ता का.. इसके पाठको का, टिप्पनीदाताओ का और खुद गुलज़ार साहब का जिन्होने अपनी लेखनी की सीपी से इतने नायाब मोती दिए है की हमे उनके बारे में लिखने का मौका मिला..

मैं एक और बार रवीन्द्र जी को धन्यवाद देना चाहूँगा की उन्होने हमारे इस प्रयास को सफल बनाया..

ये खबर देखने के लिए यहा क्लिक करे


गुलज़ार साहब के ही शब्दो में कहे तो..

'इक बार वक़्त से लम्हा गिरा कही
वाहा दास्तान मिली लम्हा कही नही'

This entry was posted on Friday, July 18, 2008 . You can leave a response and follow any responses to this entry through the Subscribe to: Post Comments (Atom) .

10 comments

बहुत बहुत बधाई ..अच्छा लगा गुलजार जी का तो एक एक लफ्ज़ ख़ुद बोलता है

Hearties Congratulations !!
well deserved praise & notice by web duniya.
Rgds,
L

कुशजी
धन्यवाद को आप सब लोगों को देना चाहता हूं जो इस ब्लॉग पर गुलजार साहब की बेहतरीन चीजें पढ़वा-सुनवा रहे हैं। यह सचमुच एक अलग ब्लॉग है जो किसी एक फनकार पर केंद्रित है। यह गुलजार का ही जादू है कि जो भी उनकी रचनात्मकता का स्पर्श पाता है उनके जादू से मोहित हुए बिना नहीं रहता है। मैं उनके चुनिंदा गीतों-नज्मों पर पेंटिंग की एक सिरीज तैयार कर रहा हूं।
आप सभी के प्रति आभार।
रवींद्र व्यास, इंदौर

wow.. i feel so great to be associated with this blog.
Congratulations to each member of this blog and special thanks to Kush.

bouth he aacha post hai ji


visit my site

www.discobhangra.com

Guljaar jee k kareeb har koi rahna cahega. acha prayas hai. badhayi

Guljar sahab par aadharit is pryas aur uplabdhi ke liye badhai.

Post a Comment